Spam Meaning In Hindi | Spam क्या है कैसे होता है सम्पूर्ण जानकारी

आप Computer या Mobile का इस्तेमाल कर रहे हो और उसमें इंटरनेट का भी इस्तेमाल कर रहे हो तो आपको यह शब्द Spam और इसके बारे में थोड़ा सा पता होना चाहिए और आपने इसे कहीं पढ़ा भी होगा और कई अन्य को इसके बारे मैं जानकारी नहीं होती तो हम spam के बारेमे आज विस्तार से चर्चा करेंगे।

इन्टरनेट पे Spam कही तरीको से किया जाता है और Spam के वजह से आज कल लोगो को बहुत परिसानियो का सामना उठाना पड़ता है और कुछ Spam तो बहुत खतरनाक भी होते है इसीलिए में आज आपको Spam क्या है कितने प्रकार के Spam होते है वो सभी के बारेमे आज विस्तार से बात करेगे तो इस आर्टिकल पे बने रहिये।

Spam Meaning In Hindi

Spam क्या होता है? | What is Spam in Hindi?

हम सब लोग Internet का उपयोग तो करते ही हैं और उसमे भी हम E-mail का उपयोग करते तो उसमे आपके नापसंद कितने ही हररोज Mail आते होंगे तो वह Spam message या Spam Mail होते हैं।

कोई भी Networking Site जैसे Facebook ,Instragram ,WhatsApp ,G-Mail etc. को इस्तमाल करने के कई नियमो और शर्ते होती है तो कुछ लोग या कुछ कंपनी इसे तोड़कर या इसे दुरुपयोग करके हमलोग का डाटा यानि Mail I’d और Phone number आदि चुरा कर बेच देते है और इस प्रकार हमे Spam Mail, Spam message या Spam Call आना शुरू होता है।

Spam यानी अनचाहा संदेश ऐसा भी हम कह सकते है। असल में अगर देखा जाए तो आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो समझ लो आप भी स्पैम का एक बहुत बड़ा हिस्सा हो जिससे आप बाहर शायद ही निकल पाओ, लेकिन आप इससे बच सकते हो।

Spam के प्रकार | Types of Spam in Hindi

Spammer अपने अवांछित संदेशों को बल्क में भेजने के लिए कई प्रकार के संचार का उपयोग करते हैं। इनमें से कुछ मार्केटिंग संदेश हैं जो अवांछित सामानों को पेडल करते हैं।  अन्य प्रकार के स्पैम संदेश मैलवेयर फैला सकते हैं, व्यक्तिगत जानकारी बिखेर सकते हैं, या आपको यह सोचकर डरा सकते हैं कि परेशानी से बाहर निकलने के लिए आपको भुगतान करने की आवश्यकता हैं।

आपने अकसर देखा होगा कि आपके पास बिन बुलाए इमेल्स, मैसेज, कॉल्स आते है। इसको हम एक तरीके से अनाधिकृत Spam भी कह सकते हैं तो सलिए अब जानते है स्पैम के प्रकार क्या है और आपके ऊपर किस किस तरीकेसे Spam किया जाता है।

Spam Mail

आप लोग ईमेल का इस्तेमाल करते है तो आपको बहुत सारे बिना के ईमेल आते रहते है जो की आपको उसमे बिलकुल भी रुसी नही होती फिर आपको वो सब ईमेल आते रहते है उसको आप स्पैम ईमेल भी बोल सकते है और इसी स्पैम ईमेल से आपको बहुत सारा नुकसान भी हो सकता है इसीलिए ऐसे स्पैम से दूर रहे और अपना ईमेल बहुत सारी फ्रौड वेबसाइट में मत डालिए।

स्पैम मेल तब होता है जब कोई व्यक्ति या कंपनी बड़ी संख्या में अवांछित विज्ञापन भेजती है। क्युकी ये सभी मेल हमारी मर्जी के खिलाफ आ रहे हैं इसलिए इसे स्पैम मेल कहा जा सकता है।ऐसे मेल को हम रोक भी सकते हैं।

Spam Mail को कैसे पहसाने?

आपको आगे पता चलेगा की ज्यादा तर Spam E-mail से ही आते हे नीचे दिए तरीको से आप Spam E-mails को पहचान सकते हो।

Spam Mail आपके Mailing Software में Spam Box में ही आते है क्योंकि वो Spam E-mail है ऐसा हमारे जेसे लोग ही कंपनी को बताते है और कंपनी उसे Spam Box में डाल देती है पर कभी कभी हमारे काम के ईमेल भी Spam में सले जाते है इसीलिए आप बिना देखे कभी भी स्पैम ईमेल को डिलीट ना करे।

अगर आपने Notice किया होतो उनका Mail किसी बड़ी किसी बड़ी कंपनी या वेबसाइट जैसा होगा जैसे कि Flipkart की जगह Flipcart कर रखा होगा और भी बहुत सारी बड़ी बड़ी कम्पनी जैसा नाम का Domain लेके उसका ईमेल बना के वो लोग आपके साथ Email में Spam करते है तो आप Email Spam को पहेसाने और इस Spam से हमेसा दूर रहे।

Spam Call Meaning in Hindi | Spam Call क्या है?

इसमें बड़ी संख्या में फोन नंबर को इकट्ठा किया जाता है और सब को फोन किया जाता है। और इन कॉल को करने का मकसद सिर्फ कॉल करना नहीं होता बल्कि यह बहुत खतरनाक भी हो सकता है इसमें आपको धोखा देकर आपके पर्सनल इंफॉर्मेशन, बैंक डिटेल जैसे महत्वपूर्ण जानकारी भी ले सकते हैं।

ऐसे कॉल किसी चीज वस्तु को बेचने के लिए भी आते हैं, इसी वजह से आप जब भी किसी अनजान व्यक्ति से फोन पर बात करते हो तो आपके पर्सनल इंफॉर्मेशन उनको कभी भी नहीं देनी चाहिए। आपको पता नही है की आपको Call कोन कर रहा है तो बेहतर यही होगा की जो Call आपके मतलब की नही है उसे आप उठाए ही नही और काट दीजिए यही आपके लिए अच्छा है।

Spam on Social Media

आज कल स्पैम Social Media के माध्यम से भी होता है बहुत लोग होते है जो आपकी पर्सनल जानकारी Social Media से उठा लेते है फिर आपको धीरे धीरे Social Media के माध्यम से आपको मेसेज करते है और आपके साथ बहुत प्रकार के Spam करता है।

Spammer स्पैम करने के लिए कोई भी रास्ता निकल लेते है और वो अपना काम करते है इन्टरनेट पे बहुत सारे प्लेटफार्म है जैसे Facebook, Whatsapp, Instagram इसके अलावा भी बहुत सारे प्लेटफार्म जिसका इस्तेमाल करके Spammer अपना काम करते है तो सलिए ये सभी प्लेटफार्म के बारेमे विस्तार से जानते है।

Social Media के माध्यम से स्पैम कैसे और किस तरह से किया जाता है?

अभी के समय में Social Media में Link, Message आदि का वायरल होना आम बात है। इसी से भी Spam के रूप मे Scam हो सकता है। इन सब spam से बचते रहना चाहिए। तो सलिए जानते है की पोपुलर सोशल मीडिया प्लेटफार्म कोनसे है और उसके जरिये कैसे स्पैम होता है।

1) Spam on WhatsApp – WhatsApp पर Spam केसे होता है?

WhatsApp में भी किसी प्रोडक्ट के लिंग को स्पेन किया जाता है और बहुत सारे ऐसे Message भी आपने कही ना कही देखे होगे और आपको आए भी होगे जैसे की आप इस link को ओपन करे और 10 दोस्तो के साथ शेर करो और 1000 रूपिए आपके Bank Account में Transfer हो जायेगा आपको कोई फ्री मैं 1000 रूपिये नहीं देने वाला तो इसमें भी आपको बच के रहना साहिये।

2) Spam in Facebook – Facebook से Spam केसे हो सकता है?

फेसबुक पर भी किसी प्रोडक्ट का लिंक किसी वेबसाइट का लिंक या फिर कोई यूट्यूब वीडियो के लिंक को फेसबुक पेज या ग्रुप में बार-बार शेयर किया जाता है अगर आप ऐसे एक्टिविटी करते हो तो आपका अकाउंट को फेसबुक बंध भी कर सकता है क्योंकि यह फेसबुक के Policy के खिलाफ होता है।

Facebook पे अभी के टाइम में बहुत स्पैम होता है क्योकि अभी के टाइम में सब लोगो के सबसे ज्यादा Fake अकाउंट फेसबुक पे होते है और वो सब लोग फेक अकाउंट बना के फेसबुक पे स्पैम करते है और बहुत सारे ग्रुप में और आपके पर्सनल अकाउंट में भी वो लोग कुछ न कुछ शेयर करते रहते है तो ये सभी फेसबुक स्पैम में आता है तो आप इस तरिकेके Spam से बसना साहते है तो फ्रौड ग्रुप से दूर रहे और अपना अकाउंट Private रखे जिस्से स्पैमर आपके अकाउंट को ढूढ़ नही पायेगे और आपके साथ कोई स्पैम होने का खतरा नही रहेगा।

Spam on Website or Blogs – Website और ब्लॉग से केसे Spam होते हैं?

आप कोई वेबसाइट सलाते हो तो आपको पता ही होगा की ब्लॉग वेबसाइट में कमेंट में भर भर के Spam होता है जो की Backlink लेने के लिए ही किया जाता है क्योकि Backlink से वो लोग अपने रैंकिंग को इम्प्रूव करना साहते है पर इस तरीकेसे वो लोग स्पाम करते है जिस्से उसका तो फायदा नही होता है पर हमारा टाइम जरुरु बर्बाद होता है।

इसी तरह वेबसाइट में और भी कई तरिकेके स्पैम होते है जैसे कोई वेबसाइट को ओपन करते है तो नोटिफिकेशन को enable करने को बोलते है जो की बार बार कहा जाता है और आप उसको enable कर देते है तो नोटिफिकेशन भेजते है जो की बहुत ख़राब ख़राब वेबसाइट की भी होती है तो हमेसा इस तरिकेकी वेबसाइट से दूर रहे और और अची वेबसाइट है उसका ही नोटिफिकेशन on करिए।

Advantages and Disadvantages of Spam – स्पैम के फायदे और नुकसान

दोस्तों हम सब जानते ही कि सिक्के के दो पहलू होते है। एक अच्छी साइड और एक बुरी साइट तो हम अब स्पैम के बारे में देखेंगे कि उसकी अच्छी अच्छी बाते क्या है और गलत बात क्या है यानी की उसके फायदे क्या हैं और उसके नुकसान क्या हैं।

1) Advantages of Spam – स्पैम के फायदे

अगर स्पैमर अपनी प्रोडक्ट्स के लिंक को स्पैम करता है और उसने यह लिंक को करीब 1000 लोगों को भेज रहे और उसमें से करीब 200 लोगों ने तो उस प्रॉडक्ट को देखा ही होगा और अगर दो से पांच बन्दों ने भी उसका प्रॉडक्ट खरीद लिया। तो उसे। प्रोडक्ट्स के लिए एडवर्टाइज करने की जरूरत नहीं पड़ेगी और उसका प्रॉडक्ट बिक जाएगा।

कोई भी Youtuber अपने वीडियोस की लिंक को स्पैम करके शेयर करता है तो उसको उसका फायदा भी होता है जैसे विडियो के अंदर व्यूज जयादा आते है और उसके चैनल के सब्सक्राइबर भी बढ़ जाते है

Facebook और WhatsApp पर अपने वेब साइट की ट्रैफिक, प्रोडक्ट्स को सेल करने के लिए लिंक शेयर करते है जो भी एक स्पैम है पर इस स्पैम से भी बहुत लोगो का नुकसान होता है।

स्पामी Comment से आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए Backlink लेते हैं जिससे आपको अपनी ब्लॉग पे ट्रैफिक भी मीलती हैं और आपकी SEO रैंकिंग बढती भी है।

2) Disadvantages of Spam – स्पैम के नुकसान क्या होता है?

स्पैम करने से आपको थोड़े बहुत फायदे भी होते है पर ज्यादातर लोगो को Spam से नुकसान भी होता है जैसे में आपना एक किस्सा आपको बताऊ तो मेने भी एक प्लेटफार्म पे स्पैम करके कुछ backlink लिया था जिस्से मुझे ट्रैफिक भी मिलता था और मेरी रैंकिंग में भी बढ़ावा आया था पर कुछ टाइम बाद मेरा अकाउंट बंध कर दिया इसी तरह Spam से अकाउंट बंध होने का खतरा सबसे ज्यादा रहता है।

E-Mail स्पैम से फिशिंग का उपयोग करके हमारे पर्सनल इंफॉर्मेशन और बैंक डिटेल, क्रेडिट या डेबिट कार्ड डिटेल की भी चोरी हो सकती है। इन Spam से और भी बहुत सारे अपराध किए जाते हैं इस वजह से सभी को इंटरनेट के कुछ विशेष Rules का फॉलो करना अनिवार्य होता है लेकिन फिर भी लोग ये सभी काम करते हैं।

Spammer को हमारे Phone Number या Email Address कहा से मिलता है?

आपने कभी न कभी किसी वेबसाइट पर या गूगल फॉर्म पर अपना ईमेल आईडी और फ़ोन नंबर रजिस्टर तो किया ही होगा स्टीमर भी वही वेबसाइट या गूगल फॉर्म के ओनर से उनके द्वारा कलेक्ट किया गया इनमें लिस्ट और फ़ोन नंबर लिस्ट खरीदते हैं और उन्हें लिस्ट के द्वारा ही वो स्पैम करते है। तो इससे हमें यह सीख मिलती है कि आप किसी भी वेबसाइट या कोई अन्य जगह पर अपना ईमेल आईडी और फोन नंबर रजिस्टर न करें।

Phishing क्या होता है?

फिशिंग एक साइबर क्राइम है जिसमें संवेदनशील और पर्सनल इन्फोर्मेशन जैसे की बैंकिंग, क्रेडिट या डेबिट कार्ड डिटेल्स और पासवर्ड प्राप्त करने के लिए आपको को किसी ऑनलाइन या ईमेल या टेक्स्ट मैसेज के जरिए संपर्क किया जाता है और यह स्पैम ईमेल या मैसेज होते हैं इससे आपके साथ फ्रॉड भी हो सकता हे यानिकि Scam तो आपको इस प्रकार के Spam से सतर्क रहना पड़ेगा।

How To Protect From Spam – स्पैम से कैसे बचे?

आपको Spam E-Mail आए तो उसको open ही नही करना है, अगर Spam Call या मैसेज आए तो उसे रिसीव ही नही करना चाहिए और ignore करना चाहिए।

आगर आप लोग internet से खरीदी कर रहे हो तो सावधानी से करना चाहिए और payment जो आप credit या debit Card से करते हो तो एक ही credit या डेबिट कार्ड से करना चाहिए।

आपको आपने computer को Spam और Fishing से बचाव से आपको Security Software या Antivirus का प्रयोग करना चाहिए।

अगर आप मोबाइल use करते है तो उसमे कई सारे मोबाइल फोन में ऐसा option आता है spam का गर आपके Phone पे नई आ रहा हो तो आप third-party एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते हो और हां उसमे भी आपको सोच समझकर एप्लीकेशन डाउनलोड करनी चाहिए।

  • आपको किसी से भी कही भी Personal details और bank details share ना करे अगर आप चाहे तो तत्कालीन E-mail use कर सकते हो जो इंटरनेटपर ढूढने से आसानी से मिल जाता है।
  • आप जिस web browser का उपयोग कर रहे हैं उसे आप Update जरूर करे और Verified Browser या एप्लिकेशन ही यूज करे वहा भी आपके प्राइवेसी का भी खतरा हों सकता है।
  • Internet की सारी Security Protocols का पालन जरूर करे अगर आप कोई link को open कर रहे है तो यह जरूर से चेक करे की वो HTTPS में open हो रहा है या नहीं।
  • किसी भी अनजान लिंक और आपको पता ही नही की उस लिंक से क्या होगा तो उस Link पर Click करने से बचे।

How To Recognise Spam E-mails – स्पैम ईमेल को कैसे पहचाने?

हम लोग spam meaning in हिंदी और spam mail in हिंदी के बारे में जान लिया है अब हम देखेंगे की इस प्रकार के mail को हम किस प्रकार से पहसान सकते है।

Spam E-Mail को आप बड़ी आसानी से पहचान सकते हो।

  • आपको सबसे पहले Mail ID को चेक करना है। जिससे आपको Mail Receive हुआ है अगर आप उस Mail ID को नहीं पहचानते हो या Mail ID में ऐसे Domain का उपयोग किया गया है जिसे आप नहीं जानते तो उस Mail में दी गई Link को Click न करें वह Spam हो सकती हई।
  • E-Mail के साथ आपको display Name भी दिख जाएगा उसे भी आप जरूर देख ले, अभी के समय मेँ display Name में बड़े बड़े कम्पनी के नाम रहते हैं जैसे Paytm, Phone pay, IOCL, आदि इस सब से आपको बचना है।
  • Mail में यूज किए गए Subject से भी सतर्क रहना चाहिए क्योंकि उसमें भी कुछ इस प्रकार के डरावने शब्दों का प्रयोग किया जाता है। जैसे : Your Account Has been suspended , someone is trying to make unauthorised login इस प्रकार के sentences का प्रोयोग किया जाता है।
  • आपको Typing Mistakes को भी ध्यान में रखना है क्योंकि कोई भी company अपने E-mail में typing Mistake नहीं करती।
  • आपको अपने spam E-mail को check करने के लिए Anti Spam Software का भी प्रयोग करना चाहिए।

समाप्ति

आपने पूरा आर्टिकल पढ़ा होगा तो हमे लगता है की आपको Spam के बारे मे पूरी जानकारी मिल गई होंगी और इन सब चीजों आपको स्पेमर से बचा सकती है उसे जरूर follow कीजिए गा जिससे आप Spam से बच सकते हो।  और आपको ये आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और कोई सवाल या सुजाव है तो आप निचे कमेंट में जरुर बता सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here