Google का मालिक कौन है और गूगल किस देश की कंपनी है?

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका आज के इस रोचक आर्टिकल में जिसमे हम गूगल के बारे में जानेंगे। आपने गूगल का नाम तो सुना ही होगा यहाँ तक की आप गूगल का इस्तमाल दिन में कई दफ़ा करते होंगे।

लेकिन दोस्तों क्या आपने कभी इस बात पर गौर किया है की गूगल कहाँ की कंपनी है और गूगल का मालिक कौन है? अगर नहीं तो कोई बात नहीं क्युकी आज हम इसी के बारे में विस्तार से बात करने वाले हैं.

दोस्तों अगर आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ते हो तो आपको पता चल जायेगा की गूगल किस देश का है, गूगल का Owner कौन है और गूगल की स्थपना कब हुयी थी?

Google Ka Malik Kaun Hai

Google क्या होता है?

दोस्तों अब हम बात करने वाले हैं की गूगल क्या है? क्युकी दोस्तों आपको नहीं लगता की गूगल का मालिक कौन है? गूगल किस देश का है? गूगल की फुल फॉर्म क्या है? ये सब जानने से पहले आपको पता होना चाहिए की गूगल क्या है? क्युकी दोस्तों जब तक आपको यही बेसिक जानकारी नहीं पता होगा तो आपको आगे कैसे समझ आएगा?

दोस्तों अब जानते हैं की गूगल क्या होता है तो दोस्तों गूगल एक सर्च इंजन है इसको हमलोग किसी भी प्रकार के इनफार्मेशन को जानने के लिए इस्तेमाल करते हैं. आसान भाषा में अगर समझना जाये तो गूगल के मालिक ने इसको एक टूल की तरह बनया है।

दोस्तों एक ऐसा टूल जिस से आप दुनिया के किसी भी सवाल को बस कुछ मिंटो में इससे सर्च कर के उसका उत्तर निकल सकते हैं. दोस्तों इसी लिए ये विश्वा में किसी क्रन्तिकारी अविष्कार से बिलकुल भी काम नहीं है।

दोस्तों गूगल को में क्रन्तिकारी अविष्कार इसलिए कह रहा हूँ क्युकी दोस्तों अपने खुद ही देखा होगा की कैसे जब इंटरनेट नहीं था कुछ साल पहले तो लोग किसी भी जानकारी के महंगे महंगे किताबे खरीदते थे. दोस्तों इतना ही नहीं बल्कि लोग अपने पढाई के लिए भी किताबो ही निर्भर रहते थे।

दोस्तों और लोग समाचार पात्र भी खरीद के पढ़ते थे. हर सुबह उनके घर में Delivery boy आते और समाचार पात्र देकर चले जाते थे. लेकिन इसमें बहुत बड़ी समस्या थी की अगर आपको काम से किसी दिन जल्दी ऑफिस जाना होता था उस दिन आप न्यूज़ पेपर को नहीं पाते थे और आपके उस दिन के समाचार पात्र वाले पैसे बर्बाद हो जाते थे।

लेकिन दोस्तों आज गूगल के एडवांस टेक्नोलॉजी के कारन हम कभी भी अपने फ़ोन से ही किसी भी न्यूज़ को पढ़ सकते हैं और अपने रोज़ना जीवन में हर अपडेटेड रह सकते हैं. दोस्तों इतना ही नहीं अपने देखा ही है की कैसे हमारे देश में काफी दिनों तक लॉकडाउन लगी रही जिसके कारन स्कूल बाद रहे यहाँ तक की कई बच्चो के पस तो किताबेभी नहीं थी।

दोस्तों लेकिन गूगल के चलते जिन बच्चो के पस किताबे नहीं थी वो भी पढ़ पाए क्युकी गूगल से हम किसी भी किताब को निकल कर पढ़ सकते हैं. चाहे वो कोई सी भी किताब हो बच्चो की पढ़ाई वाली या फिर कोई बड़ो के लिए एंटरटेनमेंट वाली किताब।

था दोस्तों इतना ही नहीं बल्कि हर एक छोटे-बड़े स्कूलों द्व्रा ऑनलाइन परीक्षा भी गूगल के ही मदद से लिया जाता था. स्कूलों द्व्रा छात्रों को गूगल फॉर्म में प्रश्न लिख के हेज दिए जाते थे और बच्चे उनमे अपना उतर लिख के सबमिट कर दते थे. जिसके कारन वह सफलता पूर्वक अपना परीक्षा दे पते थे।

दोस्तों यह प्रिक्रिया अभी भी जारी है अभी भी देश में कई जगहों पर लॉकडाउन लगा हुआ है जहाँ बच्चे अभी भी गूगल की मदद से ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं. दोस्तों इसलिए दुनिया में गूगल एक क्रन्तिकारी अविष्कार है दोस्तों दुनिया में गूगल की तरह और भी सर्च इंजन हैं।

दोस्तों लेकिन गूगल के एडवांस टेक्नोलॉजी के कारन सबसे ज्यादा इसी को इस्तेमाल किया जाता है. जिस वजह से आज गूगल दुनिया भर में सबसे ज्यादा मशहूर सर्च इंजन बन चूका है।

दोस्तों आज आप इस लेख को भी गूगल की ही मदद से पढ़ पा रहे हैं अपने गूगल पर “गूगल का मालिक कौन है?” , “गूगल क्या है?” अपने ये कीवर्ड्स सर्च किये होंगे और आपको गूगल ने इस लेख को दिखाया होगा। जिस वजह से आप अभी इसको पढ़ पा रहे हैं।

दोस्तों लोग आज कल लोग ऑनलाइन कोरोना की वैक्सीन बुक करने के लिए भी का बहुत इस्तेमाल कर रहे हैं. अगर आज गूगल नहीं होता तो उन्हें पैदल वैक्सीन बुकिंग सेंटर जाकर वैक्सीन बुक करना पड़ता।

दोस्तों गूगल ने इसके साथ लाखो महिलाओं की भी मदद की है. जी हाँ दोस्तों काफी सरे महिलाओं को खाना बनाना नहीं आता या फिर उन्हें कोई नाइ डिश बनानी है. इस केस में वह महिला बस उस रेसिपी का नाम गूगल पर डालकर सर्च करती है और फिर गूगल कुछ मिंटो में ही उस रेसिपी की पूरी जानकारी उस महिला के सामने ला कर रख देता है।

दोस्तों अब तो आप समझ ही गए होंगे की गूगल क्या है. मैंने आपको यह ब्हुत ही आसान तरीके से उदहारण देकर समझने की कोसिस की है. गूगल एक विशाल सर्च है जिसमे दुनिया भर के सभी जानकियाँ मौजूद है. और जिसका काम यूजर के सामने उसके सर्च से रीलेटड उत्तर पेश करना है।

Google का मालिक कौन है?

दोस्तों आज के समय में गूगल हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुक्का है हमें कुछ भी जानना या पढ़ना होता है तो हम उस चीज को गूगल में सर्च करते हैं और गूगल तुरंत उस चीज की सारी जानकारी हमारे सामने प्रकट कर देता है।

दोस्तों गूगल की स्थपना लैरी पेज और सर्गे ब्रिन के नमक दो लोगो ने मिलकर की था. और इसे एक प्राइवेट कंपनी के तौर पर सन 1998 में तकरीबन आज से 23 साल पहले इसे गूगल के नाम से मार्किट में लाया गया था।

दोस्तों लैरी पेज और सर्गे ब्रिन को गूगल यानि अपनी कंपनी को खोलने का विचार अपने पढाई के दौरान ही आया था. दोस्तों ये काफी दिनों से साथ में ही पढ़ रहे थे जिसके वजह से ये दोनों एक दूसरे को अच्छे से जानते थे. और इन्होने बिना समय बर्बाद किये कंपनी खोलने का काम स्टार्ट कर दिया।

दोस्तों ये दोनों एक दूसरे से पहली बार साल 1995 में अपने पढाई के दौरान स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में मिले थे, और बहुत ही काम समय में इन्होने मिलकर अपनी कंपनी भी बना ली थी. दोस्तों अब आप सोच रहे होंगे की इन दोनों लोगो में से गूगल का मालिक कौन है।

दोस्तों आपके जानकारी के लिए बता दें की Larry Page और Surgey Brin ने मिलकर 2004 में गूगल को Publicly पब्लिश कर दिया था. उसके बाद इसका IPO हुआ और फिर गूगल को शेयर बाजार में लिस्ट कर दिया गया।

दोस्तों ऐसा करने से अब गूगल के कई सरे शेयर होल्डर हो गए थे और अब इसके कारन जितने लोगो के पास भी गूगल का शेयर होगा उनका कुछ हद तक गूगल कंपनी में मालिकाना हक़ और हिस्सेदारी होगा।

दोस्तों आज के समय में गूगल कंपनी का सबसे ज्यादा शेयर Surgey Brin और Larry Page के ही पास है. जिस वजह से Surgey Brin और Larry Page ही गूगल के मालिक अथवा फाउंडर हैं।

दोस्तों गूगल सर्च इंजन दुनिया भर में मसहूर है. इसलिए किसी को कुछ भी सर्च करना हो वो इसके लिए गूगल की प्रयोग करते हैं. डेली गूगल को करोड़ो लोगो के द्वुरा इस्तेमाल किये जाने के कारन आज Larry Page और Surgey Brin भी दुनिया के सबसे आमिर लोगो में से एक हैं।

Google का CEO कौन है?

दोस्तों अब तक तो आप जान चुके होंगे की गूगल का मालिक कौन है? अब हम यह जानेंगे की गूगल का CEO कौन है? दोस्तों गूगल के CEO का नाम बताने से पहले मैं आपको बता दूँ की गूगल के एक CEO भारतीय व्यक्ति हैं. जो की हमारे लिए बहुत ही गर्व की बात है की कोई भारतीय व्यक्ति गूगल जैसे बड़े कंपनी का Ceo है।

दोस्तों गूगल के CEO का नाम सुंदर पिचाई है जो की तमिलनन्दु के रहने वाले हैं और इनका जन्म भी तमिलनन्दु में ही हुआ था. दोस्तों यही वह व्यक्ति हैं जो गूगल कंपनी के सरे मैनेजमेंट को सँभालते है. उसके साथ ये भारत के निवासी होने के कारन ये भारत पे ज्यादा  ध्यान देते हैं।

दोस्तों इसके साथ सुन्दर पिचाई जी का निरन्तर यही कोशिश रहता है की कैसे वो गूगल कंपनी को और बेहतर बना सके ताकि वो भारतीय और दुनिया भर के लोगो को अच्छी से अच्छी सर्विस दे पाएं। दोस्तों इसके लिए उन्होने गूगल का एक क्वेश्चन हब भी बनया है जो की हिंदी ब्लोग्गेर्स के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण टूल है।

दोस्तों सुंदर पिचाई ज्यादातर काम भारत के हित में ही करते हैं. और ये आज कल हिंदी भाषा को भी काफी ज्यादा बढ़वा तथा वैल्यू दे रहे ताकि भारत के लोगो को कोई समस्या ना हो. क्युकी गूगल का ज्यादातर यूजर भारत से ही है. इसलिए अगर इन्होने भारत के लोगो पर ध्यान नहीं दिया तो भविष्य में इनका काफी नुकसान हो सकता है।

दोस्तों गूगल के CEO तो सुन्दर पिचाई हैं लेकिन क्या आपको पता है की गूगल का पिता कौन है दोस्तों पिता यानि गूगल को जन्म देने वाला या फिर उसका अविष्कार करने वाला। दोस्तों की जैसा की आप ऊपर पढ़ ही चुके हैं की गूगल की स्थापना Larry Page और Surgey Brin ने मिलकर की थी जिस वजह से यही लोग गूगल के पिता हैं।

दोस्तों इसके बारे में आपको मैंने इसलिए बताया क्युकी लोग इसके बारे में भी अक्सर सर्च करते हैं की Father of Google In Hindi इसलिए मैंने आपको हिंदी में विस्तार से बता दिया ताकि आपको कोई विभ्रान्ति ना रह जाये।  मैं चाहता हूँ की आपको इस एक लेख में गूगल से जुड़ी पूरी जानकारी दी जाये।

Google की फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों गूगल को रोजना इस्तेमाल करने के वजह से उनके मन में कभी न कभी अत ही है की गूगल का फॉर्म फुल क्या है. दोस्तों इसके बारे में research किया और पाया की इंटरनेट पर लोगो ने गूगल का फुल फॉर्म का अलग-अलग मतलब बता रखा है. जिस वजह से लोगो को पता नहीं चल पता की कोनसा सही है। जिसके वजह से वह काफी विभ्रान्ति में पड़ जाते हैं।

दोस्तों जेनेरल दौर पर जो मैंने रिसर्च के दौरान गूगल का फुल फॉर्म पाया की गूगल का फुल फॉर्म Global Organization of Oriented Group Language of Earth होता है।

इसी के साथ लोगो ने इंटरनेट पर कई सारी और भी फुल फॉर्म बता राखी है गूगल की जो की उचित नहीं है सो अगर आपसे पूछे की गूगल की फुल फॉर्म क्या होती है तो आप वही बातये जो मैंने आपको पूरा मै बतया है।

Conclusion

दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको आज के इस लिख से गूगल से मूल्यवान जानकारियाँ मिली होंगी और अब आप अच्छे से समझ गए होंगे की गूगल का मालिक कौन है और इसका फुल फॉर्म क्या होता है?

दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आयी हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और कोई भी सवाल होने पर हमें कमेंट कर के जरूर बातये हम उसका उत्तर अवस्य देंगे।

नमस्कार दोस्तों मैं Nilesh Bambhaniya WebInformer.In का Founder & Author हूँ मुझे नयी-नयी चीज़ो को सीखने और सीखाने मे बहुत अच्छा लगता है इसीलिए मैंने ये ब्लॉग बनाया है इसके जरिए मैं आप लोगों को नयी-नयी जानकारियाँ देता रहूँगा