वीगन डाइट शरीर के लिए कैसी है ? ऐसी लाइफस्टाइल से सेहत को मिलते हैं ये फायदे

Vegan Lifestyle:  दुनिया का एक बड़ा वर्ग शाकाहारी जीवन शैली की ओर बढ़ रहा है।  शाकाहार का उद्देश्य जानवरों

और पर्यावरण की रक्षा करना है।  इसे अपनाना जहां पर्यावरण के लिए फायदेमंद होता है वहीं दूसरी तरफ यह डाइट सेहत के

लिहाज से भी काफी अच्छी होती है।  शाकाहारी भोजन को अपनाने से कई स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं।  

ऐसी स्वस्थ जीवन शैली मधुमेह, कोलेस्ट्रॉल सहित कई बीमारियों को ठीक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है।

विश्व वीगन दिवस  शाकाहारी जीवन शैली को बढ़ावा देने के लिए हर साल 1 नवंबर को विश्व शाकाहारी दिवस मनाया जाता है।

इसकी शुरुआत 1994 में 'द वेगन सोसाइटी' ने की थी।  पर्यावरण और जानवरों की रक्षा के लिए दुनिया शाकाहार की ओर बढ़ रही है।  

आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत में शाकाहारियों की तीसरी सबसे बड़ी आबादी है।  आजकल शाकाहारियों की आबादी लगातार बढ़ती जा रही है।

क्या है वीगन डाइट?   एक शाकाहारी आहार एक ऐसा आहार है जो जानवरों से प्राप्त उत्पादों का उपभोग नहीं करता है।

इसका मतलब साधारण शाकाहार नहीं है।  शाकाहारी भोजन में पशु के दूध का सेवन किया जा सकता है,

इसलिए शाकाहार में भी इसका सेवन वर्जित है।  शाकाहारी पूरी तरह से पौधे आधारित खाद्य पदार्थ खाते हैं।  

शाकाहारी लोग गाय, भैंस या बकरी के दूध की जगह सोया, बादाम या किसी अन्य वनस्पति दूध से बने उत्पाद खाते हैं।

मिलता है भरपूर पोषण  कुछ लोगों की यह गलत धारणा है कि शाकाहारी भोजन से शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिलते हैं,

लेकिन इसमें सभी आवश्यक पोषक तत्व होते हैं।  सब्जियों और फलों में प्रोटीन, फाइबर, कैलोरी, सभी विटामिन और खनिज होते हैं।  

पौधे के अंदर सभी पोषक तत्व चले जाते हैं, जो हमें शाकाहारी भोजन से मिल सकते हैं।  आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में।