Tata, Maruti की बढ़ेगी मुश्किल, Hyundai और Kia ने मिलकर किया बड़ा ऐलान

Tata, Maruti की बढ़ेगी मुश्किल, Hyundai और Kia ने मिलकर किया बड़ा ऐलान

हुंडई मोटर और उसकी सहयोगी कंपनी किआ ने साउथ कोरिया में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के प्रोडक्शन को बढ़ावा

हुंडई मोटर और उसकी सहयोगी कंपनी किआ ने साउथ कोरिया में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के प्रोडक्शन को बढ़ावा  

देने के लिए 21 ट्रिलियन वोन ($ 16.5 बिलियन) की इनवेस्टमेंट करने की योजना बनाई है,

देने के लिए 21 ट्रिलियन वोन ($ 16.5 बिलियन) की इनवेस्टमेंट करने की योजना बनाई है,  

जिसमें नई फैक्ट्री की स्थापना भी शामिल है जिसकी एक साल में लगभग 150,000 कार बनाने की क्षमता होगी।  

जिसमें नई फैक्ट्री की स्थापना भी शामिल है जिसकी एक साल में लगभग 150,000 कार बनाने की क्षमता होगी।   

हुंडई ने कहा कि इस प्लान के तहत, दोनों कंपनियों का 2030 तक देश में सालाना इलेक्ट्रिक व्हीकल प्रोडेक्शन

हुंडई ने कहा कि इस प्लान के तहत, दोनों कंपनियों का 2030 तक देश में सालाना इलेक्ट्रिक व्हीकल प्रोडेक्शन 

को बढ़ाकर 1.44 मिलियन यूनिट करना हैं। उस समय तक 1.44 मिलियन का प्रोडक्शन

को बढ़ाकर 1.44 मिलियन यूनिट करना हैं। उस समय तक 1.44 मिलियन का प्रोडक्शन  

हुंडई और किआ के ग्लोब्ल ईवी प्रोडेक्शन का लगभग 45 फीसदी होगा।

हुंडई और किआ के ग्लोब्ल ईवी प्रोडेक्शन का लगभग 45 फीसदी होगा। 

किआ ने इस प्लान को लेकर कहा कि ये नई फैक्ट्री किआ की मौजूदा ह्वासोंग फैक्ट्री के अंदर ही होगा। इसका प्रोडेक्शन 2023

किआ ने इस प्लान को लेकर कहा कि ये नई फैक्ट्री किआ की मौजूदा ह्वासोंग फैक्ट्री के अंदर ही होगा। इसका प्रोडेक्शन 2023  

के पहले 6 हफ्ते में शुरू होने की उम्मीद है, 2025 की दूसरे 6 महीने में कमर्शियल प्रोडेक्शन शुरू होने की उम्मीद है।

के पहले 6 हफ्ते में शुरू होने की उम्मीद है, 2025 की दूसरे 6 महीने में कमर्शियल प्रोडेक्शन शुरू होने की उम्मीद है।  

किआ, हुंडई मोटर और जेनेसिस सहित हुंडई मोटर ग्रुप का लक्ष्य 2030 तक ग्लोबल लेवल पर सालाना 3.23 मिलियन ईवी बेचने का है।

किआ, हुंडई मोटर और जेनेसिस सहित हुंडई मोटर ग्रुप का लक्ष्य 2030 तक ग्लोबल लेवल पर सालाना 3.23 मिलियन ईवी बेचने का है।