रूसी सरकार ने NISSAN को मात्र 80 रुपये में खरीदा, कंपनी को छोड़ना पड़ा 5.6 हजार करोड़ का सामान

Nissan sold for 1 EURO in Russia:   दुनिया की अग्रणी कार निर्माता कंपनी निसान ने एक बड़ा फैसला लेते हुए अपने पूरे कारोबार को सिर्फ 1 यूरो

यानी 80 भारतीय रुपये में बेचने का फैसला किया है।  आपको बता दें कि निसान  एक जापानी कार निर्माता कंपनी है और इसका संचालन भारत समेत पूरी दुनिया में  है।

कंपनी रूस में फैले अपने पूरे कारोबार को सिर्फ 1 यूरो में एक रूसी राज्य के स्वामित्व वाली कंपनी को बेच देगी।

इस फैसले पर कंपनी को कुल 687 मिलियन डॉलर का खर्च आएगा।  यह नुकसान भारतीय रुपये में करीब 5.6 हजार करोड़ रुपये होगा।

रूसी मंत्री ने कहा कि कंपनी को 6 महीने के भीतर पूरे कारोबार को वापस खरीदने की अनुमति दी जाएगी।  

अब तक, इस सौदे से कंपनी अपनी पूरी हिस्सेदारी रूसी राज्य के स्वामित्व वाली कंपनी को हस्तांतरित कर देगी।

क्या हुआ गड़बड़. रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के बाद, कंपनी को रूस में महत्वपूर्ण नुकसान का

सामना करना पड़ रहा था, जिसने अब कंपनी को रूसी बाजार से बाहर निकलने के लिए मजबूर कर दिया है।  

रूस में, कंपनी अब अपनी सभी विनिर्माण इकाइयों के साथ-साथ रखरखाव और अन्य संपत्तियों को सरकार को सौंपकर बाहर निकल जाएगी।