नेपाल में रोज 45 मिनट पीछे करनी पड़ती है घड़ी की सुई, यहां की ऐसी दिलचस्प बातें डाल देंगी दुविधा में

नेपाल से हमारा एक ऐसा नाता है, जहां हम बिना किसी वीजा-पासपोर्ट के घूमकर आ सकते हैं

नेपाल की संस्कृति और आबोहवा लोगों को इस कदर आकर्षित करती है कि लोग यहां

अक्सर घूमने के लिए आते रहते हैं। पूरी दुनिया में एकमात्र नेपाल ही एक ऐसा देश है,

आजतक किसी भी देश का गुलाम नहीं बना है। यही वजह ही कि यहां किसी भी तरह का

स्वतंत्रता दिवस नहीं मनाया जाता है। आप सिर्फ इतनी सी बार सुनकर चौक गए होंगे, तो

चलिए आज फिर इस देश की कुछ दिलचस्प बातें बताते हैं, जिसके बारे में आप शायद सुनकर चौक जाए।

अगर आपको लगता है कि नेपाल पर्वतारोहण के लिए प्रसिद्ध एक छोटा देश है, तो गलत नहीं हैं।

लेकिन शायद आपको जानकार हैरानी, लेकिन देश के राजधानी शहर, काठमांडू में, 15 किमी के दायरे

में सात यूनेस्को विश्व धरोहर सांस्कृतिक स्थल हैं। इसे लिविंग कल्चरल म्यूजियम के रूप में भी दूसरा नाम दिया गया है।