आंखों का पीला पड़ना है इस जानलेवा बीमारी का संकेत, समय पर इलाज से बचेगी आपकी जान

लिवर शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है, जिसके खराब होने से जान को खतरा हो सकता है।  यह शरीर में खाना पचाने से लेकर पित्त बनाने

(लीवर पित्त के जरिए भोजन पचाने का काम करता है) का काम करता है।  लीवर खराब होने पर पाचन तंत्र गड़बड़ा जाता है

जिससे पेट की कई बीमारियां हो सकती हैं।  लीवर शरीर को संक्रमण से लड़ने में मदद करता है, शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है,

शरीर में रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है और कार्बोहाइड्रेट को स्टोर करता है और प्रोटीन बनाता है।  

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, लिवर में लंबे समय तक दिक्कत होने पर ये सात  संकेत नजर आते हैं जिनकी पहचान कर वक्त रहते इलाज करना जरूरी है.

1.स्टूल (मल) का रंग बदलना  यदि आपके लीवर में कोई समस्या है, तो लीवर द्वारा उत्पादित पित्त लवण के कारण मल का रंग गहरा होगा,

जिसका अर्थ है कि आपका लीवर स्वस्थ है।  लेकिन अगर लिवर में कोई समस्या हो  तो यह वसा को पचाने में असमर्थ हो जाता है, जिससे मल पतला और रंग हल्का हो  जाता है।

2.उल्टी या जी मचलाना  मतली लीवर की समस्याओं का एक बहुत ही सामान्य लक्षण है क्योंकि इस स्थिति में लीवर

विषाक्त पदार्थों को फ़िल्टर करने में असमर्थ होता है और ये विषाक्त पदार्थ रक्तप्रवाह में जमा होने लगते हैं, जिससे मतली होती है।

3 त्वचा और आंखों का रंग पीला होना  यदि आपके लीवर में कोई समस्या है, तो आपकी त्वचा और आंखें पीली हो सकती हैं।

यह रक्त में बिलीरुबिन नामक रसायन के कारण होता है।  किसी समस्या के कारण लिवर इसे कुशलता से संसाधित नहीं कर पाता है,

इसलिए आपके शरीर में ये लक्षण दिखाई देने लगते हैं।  लीवर खराब होने पर कई  मामलों में त्वचा पर पपड़ी भी बनने लगती है, जिससे खुजली भी होती है।