क्या आप कैथा खाने के फायदों के बारे में जानते हैं,अगर नहीं तो यहां जानिए...

Elephant Apple :   काल फल का नाम तो आपने सुना ही होगा।  इसके औषधीय गुणों के बारे में कम ही लोग जानते हैं।  

इसमें आयरन, कैल्शियम, फॉस्फोरस और जिंक होता है और इसमें विटामिन बी1 और बी2 भी होता है।  वहीं सूखे कत्थ के बीजों का

गूदा विटामिन से भरपूर होता है, तो आइए जानते हैं इसके पोषक तत्वों (कैथे  में मौजूद पोषक तत्व) के आधार पर शरीर को इससे होने वाले फायदों के बारे  में।

कैथा के फायदे  कतेना के पेड़ से निकाला गया फेरोनिया का गूदा मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।  

यह रक्तप्रवाह में शर्करा के संतुलन को बनाए रखता है।  इसके नियमित सेवन से ब्लड ग्लूकोज लेवल कम होता है।

- आप इसकी जड़ से बने काढ़े का सेवन कर सकते हैं।  यह हृदय रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है।  

इस फल से बना काढ़ा कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है (कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल टिप्स)।

- कलेखा में पेट साफ करने वाले गुण भी होते हैं।  पेट के अल्सर या बवासीर से पीड़ित लोगों को केथा खाने की सलाह दी जाती है

क्योंकि इसकी पत्तियों में टैनिन होता है जो सूजन को कम करने में मदद करता है।   

कत्थे पर हुए शोध के अनुसार इसके गूदे का लेप त्वचा पर लगाने से गर्भवती महिलाओं को मलेरिया के खतरे से बचाया जा सकता है।

- आपको बता दें कि दक्षिण भारत में केठे के गूदे को मिश्री और नारियल के  दूध में मिलाकर खाया जाता है।  इसके अलावा इसके गूदे से जेली और चटनी भी  बनाई जाती है।