वर्ष 2024 में रिटायर हो जाएगा International Space Station, सुनीता विलियम और कल्‍पना बन चुकी हैं इसके मिशन का हिस्‍सा

मास्को (एजेंसी)।  पृथ्वी से लगभग 400 किमी ऊपर परिक्रमा कर रहा  अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISS) वर्ष 2024 में सेवानिवृत्त हो जाएगा।   

इसके साथ ही रूस इस स्टेशन के संचालन से खुद को अलग कर लेगा।  रूस की तरह, इसे हाल ही में एक बड़ा दिया गया है।  हालांकि अमेरिका ने

उम्मीद जताई है कि नासा को बाद में भी उसका सहयोग मिलता रहेगा।  आपको बता  दें कि अंतरिक्ष अंतरिक्ष स्टेशन की स्थापना 1998 में अंतरिक्ष में की गई  थी।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा, रूस की रोस्कोस्मोस, कनाडा की कनाडा अंतरिक्ष एजेंसी/सीएसए, जापान की जेएक्सए और यूरोप की यूरोपीय

अंतरिक्ष एजेंसी/ईएसए को इसके संचालन के लिए अनुबंधित किया गया था।  अमेरिका ने कहा है कि वह 2030 तक इसे संचालित करना जारी रखेगा

रूस की घोषणा के बाद कि वह 2024 के बाद वापस ले लेगा।  आपको बता दें कि दो  हफ्ते पहले अमेरिका और रूस एक दूसरे के अंतरिक्ष यात्रियों को आईएसएस ले गए  थे।

आईएसएस से जुड़ा पिछला अनुबंध भी 2024 तक का है।  अमेरिका की योजना 2024 के बाद इसे कमर्शियल स्टेशन बनाने की है।  रूस ने अपने

बयान के साथ ही समझौते के तहत 2024 तक स्टेशन में अपनी भागीदारी बनाए रखने का भी आश्वासन दिया है।  आईएसएस से पहले

रूस ने अंतरिक्ष में मीर स्पेस स्टेशन की स्थापना की थी।  यह 1986 में  स्थापित किया गया था और वर्ष 2001 तक कार्य कर रहा था।  इसे मार्च 2001 में  नष्ट कर दिया गया था।