घर बैठे बन जाएगा राशन कार्ड; सरकार ने शुरू की नई सुव‍िधा, जानिए पूरी प्रोसेस

how to get new ration card online  सरकार गरीबों को राशन कार्ड के माध्यम से कम कीमत में गेहूं और चावल उपलब्ध कराती है।

केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (पीएमजीकेवाई) के तहत गरीबों को मुफ्त राशन देने की योजना है।  

अगर आप भी सरकार की राशन योजना का लाभ उठाने के लिए राशन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो हम आपको पूरी प्रक्रिया बताते हैं।  

दरअसल, कुछ लोग सिर्फ इसलिए राशन कार्ड नहीं बना पाते हैं क्योंकि उन्हें इसकी प्रक्रिया की पूरी जानकारी नहीं होती है।

कैटेगरी के हिसाब से कौन सा राशन कार्ड सही?  इसे बनाने के लिए कई सरकारी दस्तावेजों की जरूरत होती है।  इसे बनाने के लिए अक्सर इधर-उधर जाना पड़ता है।  

यहां हम आपको बताएंगे कि घर पर राशन कार्ड कैसे बनाया जाता है।  इसे बनाने से पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है

कि कौन सा कैटेगरी वाइज राशन कार्ड सही है।  पहला बीपीएल कार्ड (बीपीएल)  गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों के लिए है।  इस कार्ड पर 25  से 30 किलो राशन मिलता है।

गरीबी रेखा से ऊपर वालों के ल‍िए एपीएल कार्ड  दूसरा एपीएल कार्ड गरीबी रेखा से ऊपर जीवन यापन करने वाले लोगों के लिए है।

इसके तहत लाभार्थी को 15 किलो राशन मिलता है।  तीसरा है अंत्योदय कार्ड (एएवाई), यह कार्ड बेहद गरीब लोगों के लिए बनाया गया है।

ऑनलाइन आवेदन के ल‍िए क्‍या करें?  सबसे पहले खाद्य एवं रसद विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://fcs.up.gov.in/ पर जाएं।

होमपेज पर दिए गए डाउनलोड फॉर्म पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।   राशन कार्ड आवेदन का विकल्प आएगा।  इसमें ग्रामीण और शहरी दो विकल्प उपलब्ध होंगे।

संबंधित फॉर्म को डाउनलोड करें और फॉर्म को ठीक से भरें।   फॉर्म भरने के बाद इसे आवश्यक दस्तावेजों के साथ तहसील स्तर पर जमा करें।

तहसील स्तर पर सत्यापन के कुछ दिनों बाद आपका राशन कार्ड बन जाएगा।