गिलोय बनेगा मुसीबत का पहाड़, खाने से पहले पढ़ें इसके नुकसान, जानिए डिटेल्स

Side effects of giloy:  कोरोना के समय में लोग गिलोय का खूब इस्तेमाल करते थे, तभी से कई लोग इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए रोजाना गिलोय खाने लगे।  

कई लोग इसे काढ़े के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं, कई लोग गिलोय पाउडर का  इस्तेमाल कर रहे हैं और कुछ लोग गिलोय की गोलियों का इस्तेमाल कर रहे हैं।   

इसके अलावा गिलोय डेंगू के लक्षणों को नियंत्रित करने वाला भी पाया जाता है।  इसके कई फायदे हैं, इस पारंपरिक औषधि का उपयोग

प्राचीन काल से किया जाता रहा है, लेकिन अधिक मात्रा में सेवन करने पर इसके  कई नुकसान भी होते हैं।  यह ब्लड शुगर लेवल को भी बढ़ाता है।

ब्लड शुगर   जिन लोगों को ब्लड शुगर की समस्या है उन्हें गिलोय का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह ब्लड शुगर लेवल को काफी कम करता है

और अगर किसी व्यक्ति को पहले से ही शुगर की समस्या है तो उनकी सेहत खराब होने का खतरा रहता है।

गर्भवती महिलाएं  गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को गिलोय का 

का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि गर्भावस्था के दौरान गिलोय सुरक्षित है।

लो बीपी वाले मरीज   जिन लोगों को पहले से लो ब्लड प्रेशर (लो बीपी) की समस्या है, उन्हें बिना डॉक्टर की सलाह के

गिलोय का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से ब्लड प्रेशर बहुत कम हो सकता है और समस्या और बढ़ सकती है।

जिन लोगों की सर्जरी होने वाली हो   जो लोग किसी कारणवश कोई सर्जरी कराने जा रहे हैं उन्हें कम से कम 2 हफ्ते पहले गिलोय का सेवन बंद कर देना चाहिए,

क्योंकि गिलोय का ब्लड शुगर लेवल पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।  जिससे  सर्जरी के दौरान और बाद में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।