सामान्य गाड़ियों से कितनी अलग है इलेक्ट्रिक कारों की इंश्योरेंस प्रीमियम दरें, जाने डिटेल्स

भारतीय बाजार में इलेक्ट्रिक कारों की डिमांड बढ़ती जा रही है। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों

और सरकार द्वारा इलेक्ट्रिक वाहनों पर दी जा रही सब्सिडी की वजह से ज्यादातर लोग इन गाड़ियों

की ओर रुख कर रहे हैं। लेकिन, कार खरीदने के साथ-साथ गाड़ियों का इंश्योरेंस कराना भी जरूरी होता है।

ऐसे में सवाल उठता है कि इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए कितना इंश्योरेंस प्रीमियम चुकाना होगा

और यह पेट्रोल या डीजल वाली गाड़ियों के प्रीमियम प्लान से कितना अलग है।

तो चलिए इसके इंश्योरेंस प्रीमियम से जुड़ी बातों को आसान भाषा में समझते हैं।

पेट्रोल और डीजल जैसी सामान्य गाड़ियों की बात करें तो कार के मॉडल, ब्रांड, फ्यूल टाइप, इंजन की क्षमता

और वेरिएंट के आधार पर दरों को तय किया जाता है। इसके आलवा अगर आप इंश्योरेंस को रिन्यू करवा रहे हैं

तो आपकी गाड़ी कितने साल पहले खरीदी गई है, इस पर भी आपके कार की प्रीमियम निर्भर करती है।