आपके जान का दुश्मन बन सकती हैं ये चार परिस्थितियां, हमेशा रहें दूर, जाने क्या है 

महान विद्वान, शिक्षक, कुशल राजनयिक, रणनीतिकार और अर्थशास्त्री आचार्य चाणक्य ने एक नीति तैयार की। 

उन्होंने अपनी नैतिकता में जीवन के हर पहलू को विस्तार से समझाया है।  आचार्य चाणक्य ने  

भी इन नीतियों के माध्यम से मनुष्य को महत्वपूर्ण और कड़ा संदेश दिया है।  चाणक्य के सिद्धांतों 

से कोई भी अपने जीवन को श्रेष्ठ बना सकता है।  इतना ही नहीं आचार्य चाणक्य की नीतियां इतनी 

प्रभावी हैं कि आज भी वे किसी व्यक्ति को किसी भी परेशानी या परेशानी से बाहर निकालने में मदद करती हैं।  

चाणक्य ने कुछ स्थितियों का भी उल्लेख किया है जब साहस दिखाने के बजाय पीछे 

हटना चाहिए, क्योंकि ऐसे समय में साहस काम नहीं आता।  चाणक्य नीति के अनुसार इन परिस्थितियों का सामना करने वाले बुरे लोग फंस  

सकते हैं।  आइए जानें ऐसी कौन सी चार स्थितियां हैं, जिनका सामना करने के बजाय पीछे हटना चाहिए...