इन चीजों की डिमांड करे अगर पति तो ,पत्नी को कभी  मना नहीं करना चाहिए

Chanakya Niti:   आचार्य चाणक्य के नैतिकता के सिद्धांत पूरे विश्व में सबसे अधिक प्रासंगिक हैं।  

सामान्य जीवन के रिश्तों पर चाणक्य के विचारों को यदि कोई अपने जीवन में आत्मसात कर ले तो वह एक बेहतर जीवन व्यतीत कर सकता है।  

चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र में धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष, परिवार, रिश्ते,  प्रतिष्ठा, समाज, रिश्ते, देश और दुनिया और कई अन्य चीजों के बारे में बात  की है।  

ऐसे में चाणक्य ने भी पति-पत्नी के रिश्ते को लेकर कई बातें कही हैं।  इन  बेहद जरूरी बातों को जानकर आप अपने रिश्ते को बेहतर बना सकते हैं।

प्रेम   अगर पति-पत्नी के बीच प्यार की कमी हो तो रिश्ता कभी भी प्रगाढ़ नहीं हो सकता।  

कई बार देखा गया है कि पति-पत्नी के बीच प्यार की कमी के कारण रिश्ते में  दरार आ जाती है।  ऐसे में पत्नी को पति की इस इच्छा पर ध्यान देने की जरूरत  है।  

आपसी प्रेम की कमी रिश्तों में गांठें लाएगी।  ऐसे में पत्नी को पति के  प्रति हमेशा प्यार रखना चाहिए और यह पति के लिए जरूरी भी है।  

ताकि उनके रिश्ते में सबकुछ नॉर्मल हो जाए।  ऐसे में पति को संतुष्ट रखने के लिए पत्नी को इमोशनल लव और फिजिकल लव दोनों देना चाहिए।

खुशी  पत्नी हमेशा पति से ज्यादा समझदार और बेहतर प्रबंधन करने वाली होती है।   ऐसी परिस्थितियों में पत्नी को हमेशा पति के सुख-दुख में साथ देना चाहिए

और हमेशा उसे खुश रखना चाहिए चाहे कोई भी स्थिति हो, पत्नी ही एक ऐसी महिला होती है जो पति को शक्ति देती है और देती है।  

विपरीत परिस्थितियों से लड़ने की ताकत.. अगर आप रिश्ते को बेहतर रखना चाहती हैं तो अपने पति की छोटी-छोटी खुशियों में खुद

के लिए खुशी तलाशने की कोशिश करें।  ऐसे में पत्नी को हमेशा अपने पति के दर्द के कारण को दूर करने की कोशिश करनी चाहिए।

के लिए खुशी तलाशने की कोशिश करें।  ऐसे में पत्नी को हमेशा अपने पति के दर्द के कारण को दूर करने की कोशिश करनी चाहिए।