पति-पत्नी को हमेशा गुप्त रखनी चाहिए ये बातें, नहीं तो पछताना पड़ सकता है

अपना दर्द छुपाकर रखें-  आचार्य चाणक्य कहते हैं कि अगर आप किसी के सामने अपना दर्द साझा करते हैं,

चाहे वह पुरुष हो या महिला, दूसरा व्यक्ति आपके दर्द को साझा नहीं करेगा, वह इसमें मनोरंजन ढूंढेगा।  मान लीजिए कि आप अपना दर्द

किसी के साथ साझा करते हैं, तो वह पहले गंभीर होने की कोशिश करेगा और आपके अंदर घूम रहे दर्द के बारे में और

जानने की कोशिश करेगा और यदि आप नहीं हैं, तो वह अन्य लोगों के सामने आपका मजाक उड़ाएगा। .

आपके पास धन कितना संचय है-  आचार्य चाणक्य के अनुसार आप किस तरह की स्थिति से गुजर रहे हैं, यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है।

आपको अपनी वित्तीय स्थिति का खुलासा भी नहीं करना चाहिए।  चाहे आपकी स्थिति अच्छी हो या खराब।  हालाँकि कई बार ये बातें सच्ची

और सच्ची होती हैं दोस्त आपके सामने रिश्ते की पूरी जानकारी दे देते हैं,  लेकिन फिर भी ध्यान रखें कि अगर आप अपने बुरे हाल की बात करेंगे तो लोग

आपको छोड़ देंगे, आपसे दूरी बना लेंगे और अगर आप अपनी अच्छी हैसियत की बात करते हैं, अगर बताया जाए तो लोग बेवजह ही चिपके रहेंगे।

अपने निजी जिंदगी की परेशानी-  वैवाहिक जीवन के बारे में भी आचार्य चाणक्य कहते हैं कि अगर आप किसी रिश्ते में हैं,

खासकर जब आप पति-पत्नी हैं तो रिश्ते के उतार-चढ़ाव को किसी से साझा न करें।  आपके आपसी विवाद दूसरों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं,

कभी ये लोग आपके रिश्ते में अलगाव पैदा करना चाहेंगे, तो कभी वही लोग आपका मज़ाक उड़ाएंगे।