Chanakya Niti: पैसा आने पर कभी न करे ये काम ,एक गलती से घर से चली जाएगी लक्ष्मी

Chanakya Niti:  चाणक्य नैतिक ज्ञान का अद्भुत भंडार है।  इन नीतियों को युवाओं, दांपत्य जीवन, आर्थिक समस्याओं के लिए रामबाण माना जाता है।  

सफलता पाने के लिए चाणक्य के अनमोल विचारों को जीवन में अपनाना चाहिए।  चाणक्य ने बखूबी कहा है

कि मुश्किल समय में कौन साथ देगा और कौन दूर रहेगा।  चाणक्य नीति मनुष्य के दोषों को वृक्ष के

रूप में वर्णित करती है।  जिससे मानव जीवन में 5 प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं।  चलो पता करते हैं।

आत्मापराधवृक्षस्य फलान्येतानि देहिनाम् । दारिद्रयरोग दुःखानि बन्धनव्यसनानि च॥

चाणक्य ने इस श्लोक में कहा है कि मनुष्य के कर्म ही उसे अच्छे और बुरे फल देते हैं।  

चाणक्य के अनुसार, किसी के दोष एक पेड़ की तरह हैं, जो उसे कर्म के आधार पर गरीबी, दुख, बीमारी, बंधन

और विपत्तियों से दंडित करता है।  मनुष्य के अपराध के अनुसार उसे अपने जीवन में सजा का फल मिलता है।

जो जैसा बोता है वैसा ही पाता है. चाणक्य कहते हैं कि लक्ष्मी हमेशा धन संचय करने वालों पर कृपा करती हैं,

लेकिन जो लोग धन होने पर उनका सम्मान नहीं करते हैं, ऐसे लोग माता लक्ष्मी से नाराज हो जाते हैं और घर में दरिद्रता आ जाती है।