चाणक्य के अनुसार गलती से भी इन जगहो पर नहीं ठहरना चाहिए, हो सकता है नुकसान

कौटिल्य या चाणक्य भारत के प्राचीन इतिहास के सबसे महान विद्वानों में से एक

कहे जाते हैं अर्थशास्त्र, राजनीति और कूटनीति समेत कई क्षेत्रों में उन्हें महारत हासिल थी।

अर्थशास्त्र के रचयिता आचार्य चाणक्य ने मनुष्य के जीवन को आसान बनाने व समस्याओं से

निजात पाने के लिए कई नियमों का उल्लेख किया है। चाणक्य के कई नियमों को बहुत से लोग

आज भी मानते हैं। तो कुछ लोग ऐसे भी हैं तो आधुनिक समय में इन्हें तर्क से परे मानते हैं।

लेकिन  इन नियमों को हर कोई एक बार जरूर पढ़ना चाहेगा। चाणक्य नीति में बताया गया है कि किस तरह

से मानव को अपने जीवन का निर्वाह करना चाहिए। चाणक्य नीति में एक श्लोक के माध्यम से आचार्य चाणक्य बताते हैं

कि किस तरह की जगहों पर किसी भी समझदार व्यक्ति को बिल्कुल भी नहीं ठहरना चाहिए और जितना हो सके बचना चाहिए।