खुद की जिंदगी के मालिक बनने के लिए रटें ये सुनहरे नियम, आपके चरणों में गिर जाएगी दुनिया

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य ने नैतिकता में बताया है कि कुछ सुनहरे नियमों का पालन करके आप वह सब हासिल कर सकते हैं

जिसका कोई सपना देखता है।  नौकरी, सफल व्यवसाय, प्रेम, विवाह, घर या सत्ता।   तो चलिए बताते हैं।  आपको नैतिकता के उन नियमों का पालन करना चाहिए जिनका  पालन सभी को करना चाहिए।

दूसरों की गलती से सीखों-  आचार्य चाणक्य कहते हैं कि अपनी गलतियों से सीखने से आपका जीवन छोटा हो जाएगा।

इसलिए दूसरों की गलतियों से सीखना बुद्धिमानी है।  लेकिन हमें अपने ही हाथ  जलाने की आदत है और हम अक्सर इस सबक को नज़रअंदाज कर खुद को चोट पहुँचाते  हैं।

बहुत ईमानदारी सही नहीं- आचार्य चाणक्य कहते हैं कि ईमानदारी अच्छी चीज है, लेकिन ज्यादा ईमानदारी सही नहीं है।

क्योंकि सीधे पेड़ और सीधे लोगों को पहले काटा जाता है।  आज के दौर में तेज गति का सम्मान अधिक है, ऐसे में वहां

ईमानदारी दिखाइए, जहां जरूरत हो, हमेशा सीधे रहना या चुप रहना सही नहीं है।   ऐसे लोगों की कोई इज्जत नहीं करता और न ही ऐसे लोगों पर ध्यान दिया जाता  है।

जहरीला दिखों-  आचार्य चाणक्य कहते हैं कि खुद को कभी कमजोर मत दिखाओ।  भले ही आप मर रहे  हों, अपनी सारी ताकत इकट्ठा करो और अपना दुख व्यक्त न करें।  

यह अधिक महत्वपूर्ण है कि आप मजबूत दिखें, यह जरूरी नहीं कि आप वास्तव में  मजबूत हों।  ऐसा करने से आपके आधे विरोधी पहले ही पीछे हट जाएंगे।