4G के मुकाबले महंगे हो गए हे 5G plans, 26 जुलाई से स्पेक्ट्रम नीलामी शुरू, जानिए सबकुस

भारत में 5जी मोबाइल नेटवर्क इसी साल शुरू हो सकता है।  Jio, Airtel और Vodafone Idea 5G स्पेक्ट्रम नीलामी के लिए कमर कस रहे हैं।  

इसी बीच एक रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि उपभोक्ताओं को 5जी सर्विस के लिए ज्यादा कीमत चुकानी पड़ सकती है।  एनालिस्ट्स के

मुताबिक एयरटेल और जियो जैसी कंपनियां शुरुआत में 5जी डेटा प्लान के लिए ज्यादा चार्ज करेंगी।

इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, विशेषज्ञों ने संकेत दिया है कि  5जी प्लान शुरू में 4जी से 10 से 12 फीसदी ज्यादा महंगे हो सकते हैं।

उच्च कीमतें दूरसंचार कंपनियों के बीच प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) में वृद्धि की एक नई लहर पैदा करेंगी।  एक विश्लेषक

ने कहा कि 5जी स्पीड, 4जी से 10 गुना तेज, का लक्ष्य मिड-रेंज और प्रीमियम  स्मार्टफोन यूजर्स को लुभाना होगा, जो ज्यादा कीमत चुकाने को भी तैयार  होंगे।

5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी 26 जुलाई से शुरू होगी।  इसमें कम से कम 4.3 लाख  करोड़ रुपये के कुल 72 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम की नीलामी की जाएगी।

5G स्पेक्ट्रम नीलामी शुरू होने से पहले, टाइकून मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने रु।  14,000 करोड़

की अग्रिम राशि (ईएमडी) जमा कर दी गई है।  अदाणी समूह ने 100 करोड़ रुपये जमा किए हैं।